National

किश्तवाड़ में बादल फटने से सात लोगों की मौत, 17 घायल

Seven killed, 17 injured in cloudburst in Kishtwar #Nayalooknews

जम्मू। जम्मू-कश्मीर के पहलगाम में अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने की रिपोर्ट सामने आई है। आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने बताया कि बादल फटने के कारण किसी के घायल होने की खबर नहीं है। इस दौरान गुफा में एक भी यात्री मौजूद नहीं था। अधिकारियों के मुताबिक, गुफा के पास पहले से ही राज्य आपदा मोचन बल (SDRF) की दो टीमें वहां मौजूद थी। इसके अलावा गांदरबल से एक अतिरिक्त टीम को तैनात किया गया है। अमरनाथ गुफा दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इससे पहले बुधवार को जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में बुधवार को बादल फटने से अचानक आयी बाढ़ और भारी बारिश से सात लोगों की मौत हो गई और अन्य 17 घायल हो गये।

एक प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि किश्तवाड़ जिले के दाछन गांव में बादल फटने से अचानक आई बाढ़ में कम से कम 38 लोग फंस गये, जिनमें से सात लोगों की मौत हो गई। उन्होंने कहा, कि हमने मलबे से सात शव बरामद किये हैं और 14 लोग अभी भी लापता हैं। निकाले गए 17 में से छह गंभीर रूप से घायल हैं जबकि 11 को मामूली चोटें आई हैं। अधिकारी ने बताया कि मृतकों के नाम गुलाम मोहम्मद की पत्नी सोजा बेगम, जुबैर अहमद की पत्नी रमीला बेगम, गुलाम रसूल का बेटा गुलाम नबी, नजीर अहमद का बेटा अब्दुल मजीद, हाजी लाल दीन की पत्नी जैतूना बेगम, मोहम्मद इकबाल का बेटा तौसीफ इकबाल, नसीरुल्लाह का पुत्र गुलाम मोहिउद्दीन हैं।

पुलिस सेना और SDRF की टीमें मौके पर पहुंच गयी हैं और बचाव अभियान अभी भी जारी है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि केंद्र सरकार सरकार स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए है। मोदी ने ट्वीट किया,कि किश्तवाड़ और कारगिल में बादल फटने के मद्देनजर केंद्र सरकार स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए है। प्रभावित क्षेत्रों में हरसंभव सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। मैं सभी लोगों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूँ। (वार्ता)

Related Articles

Back to top button