Central UPNationalRaj Dharm UP

‘ अयोध्या में खऱीदी गयी सारी जमीनों की जांच हो ’, 120 करोड़ लोगों की आस्था का सवाल

'All the land bought in Ayodhya should be investigated', the question of faith of 120 crore people#naya look news

  • सपा नेता पवन पांडेय ने दी चुनौती कहा,करोड़ों लोगों की भावनाएं आहत हुईं
  • बीजेपी औ रसरकार ने साधी आश्यर्यजनक चुप्पी, तूल पकड़ेगा जमीन विवाद
  • आप सांसद संजय सिंह ने दस्तावेजों के साथ पत्रकार वार्ता में किया था खुलासा

नया लुक ब्यूरो


लखनऊ, अयोध्या । अयोध्या में श्रीराम मंदिर के लिए खरीदी जाने वाली जमीन पर लगे करोड़ों के घपले का आरोपों के बीच बीजेपी ने आश्यर्यजनक रूप से चुप्पी साध रखी है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने ने जरूर इस विवाद पर बयान दिया है पर बाकी सब चुप्पी साधे हुए हैं। वहीं हालात बता रहे हैं कि यह विवाद अभी और तूल पकड़ेगा। वहीं सपा नेता पवन पांडेय ने तो यहां तक कह दिया कि मैं महज इसी जमीन की बात नहीं कर रहा हूं। ट्रस्ट ने पूरे अयोध्या में जितनी जमीनें खरीदी हैं, उसकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह छोटा मामला नही है बल्कि 120 करोड़ लोगों की आस्था का सवाल है। ऐसे में सारे तथ्यों की जांच होनी चाहिए। और जो दोषी हैं उन पर कार्रवाई हो। ये तो 120 करोड़ लोगों की आस्था का सवाल है और लोगों की आस्था को ठेस पहुंची है।

चंपत राय
चंपत राय

पवन पांडेय ने कहा कि केंद्र ने ट्रस्ट बनाया है और मामले की सीबीआई जांच करा ले। दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। मैं कोई आरोप नहीं लगा रहा हूं। मैं तो जांच की मांग कर रहा हूं। बैनामा सामने आया है, रजिस्टर्ड एफिडेविट सामने आया है। कागज के आधार पर मैं बात कर रहा हूं। वहीं कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह का कहना है जिस तरह से भगवान राम मंदिर के नाम पर करोड़ों की जमीन घोटाला किया गया वह शर्मनाक है। पूरे देश के राम भक्त आहत हैं। पूरा देश जानना चाहता है कि क्या बीजेपी की सरकार भगवान राम के नाम पर चंदा खाएगी? भगवान राम के नाम जमीन घोटाल करेगी? भगवान राम की जमीन के नाम पर वोट मांगेगी ? या फिर भगवान राम के नाम पर हुए घोटाले की जांच भी कराएगी। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय इस मुद्दे पर बयान दे चुके हैं कि ट्र्स्ट ने जितनी भी जमीन खरीदी है वह खुले बाजार से काफी कम कीमत पर है। जमीन खरीदने के लिए वर्तमान विक्रेतागणों से वर्षों पूर्व जिस मूल्य पर एग्रीमेंट हुआ था उस जमीन को उन्होंने 18 मार्च 2021 को बैनामा कराया। इसके बाद ट्रस्ट के साथ एग्रीमेंट किया।

संजय सिंह
संजय सिंह

 

राजनीतिक लोग दुष्प्रचार कर रहे हैं। हम आरोपों से नहीं डरते, जो आरोप लगे हैं उसकी जांच करूंगा। बता दें कि आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने पत्रकार वार्ता में खुलासा कियाकि अयोध्या में श्रीराम मंदिर के लिए खरीदी जाने वाली जमीन पर रामजन्मभूमि न्यास के ट्रस्टी व मंहामंत्री चंपत राय ने करोड़ों रुपए के घोटाला किया है। उन्होने दस्तावेजों के साथ कहा कि मंदिर के लिए अयोध्या में 5 करोड़ मालियात वाली जमीन पहले दो व्यक्तियों ने मिलकर 2 करोड़ में खरीदी। इसके बाद फिर उसी जमीन को राम मंदिर न्यास ट्रस्ट ने 18.5 करोड़ रुपए में खरीद ली।

दीपक सिहं एमएलसी कांग्रेस
दीपक सिहं एमएलसी कांग्रेस

हैरान करने वाली बात है कि महज 5 मिनट के अंदर ही इस जमीन का सौदा भी हो गया यानी 5 मिनट के अंदर जमीन की कीमत 2 करोड़ रुपये से बढ़कर सीधे 18.5 करोड़ रुपए हो गई। संजय सिंह ने रजिस्ट्री के दस्तावेज भी सार्वजनिक किए हैं। उन्होंने साक्ष्य के तौर पर उन्होंने जमीन के बैनामे की कॉपी भी मीडिया के सामने रखी। उन्होने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मांग की है वह इस मामले की जांच सीबीआई और ईडी से कराएं।

Related Articles

Back to top button