Biz News

इनकम टैक्स का नया पोर्टल आज होगा लॉन्च, लेकिन 18 के बाद काम होगा शुरू

New portal of income tax will be launched today, but work will start after 18

टैक्सपेयर्स को कई सहूलियतें देने के लिए बनाया है अत्याधुनक पोर्टल


नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय आज इनटैक्स का नया पोर्टल www.incometax.gov.in लॉन्च करने जा रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि यह नया पोर्टल अत्याधुनिक और इनकम टैक्स पेयर्स के लिए ज्यादा आसान बनाया गया है। जानकारों का कहना है कि आयकरदाताओं को रिटर्न फाइल करना अब ज्यादा आसान हो जाएगा। पुरानी वेबसाइट एक जून को ही बंद हो चुकी है। पिछले हफ्ते टैक्सपेयर्स का आयकर विभाग की वेबसाइट पर होने वाले कोई काम नहीं हुए। हालांकि आयकर विभाग ने यह स्पष्ट कर दिया है कि नया वेबसाइट आज से शुरू हो जाएगा लेकिन कर भुगतान प्रणाली की शुरुआत 18 जून को एडवांस्ड टैक्स की किश्त की तारीख के बाद की जाएगी।

Oh God! पाकिस्तान में तड़के टकरा गई दो ट्रेनें, सैकड़ों मौत की आशंका

इस नए पोर्टस पर टैक्सपेयर्स को पुरानी वेबसाइट के मुकाबले अधिक सहूलियतें मिलेंगी। फिलहाल, आयकरदाता इनकम टैक्स रिटर्न www.incometaxindiafiling.gov.in पर कर रहे थे। इसके साथ, ऑडिट रिपोर्ट और कई अन्य फॉर्म भी भरे जा रहे थे। पिछले कुछ बरसों में फेसलेस असेसमेंट के लिए कई अन्य तरह के मोड्यूल जोड़े गए हैं।  पहली बार दी जा रही मोबाइल ऐप की सुविधा भी 18 जून से शुरू हो जाएगी। इससे टैक्सपेयर्स टैक्स से जुड़े कामकाज ऐप पर भी कर सकेंगे। लखनऊ के सीए अमित राय कहते हैं कि पहले का पोर्टल फिलहाल अच्छी तरह से काम कर रहा है। लेकिन जब रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख आती थी, तो उस समय भीड़ बढ़ने पर इसमें दिक्कतें आने लगती थीं। इसके अलावा, इनकम टैक्स जमा करने वाले लोगों को डॉक्यूमेंट्स जमा करने में कठिनाइयां आती थी। इसके अलावा कई आयकरदाता इसमें कन्फ्यूज हो जाते थे।

जानिए नए पोर्टल की खूबियां

अब इस नए पोर्टल से आयकरदाता आसानी से रिटर्न फाइल कर सकता है, इससे रिफंड जल्दी के प्रॉसेस हो जाएगा। सब कुछ एकल विंडो में देखा जा सकता है ताकि आयकरदाता उसे पूरा कर सकें। फ्री ITR ऑपरेशन फॉर्म ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से उपलब्ध होगा। इसमें इंटरैक्टिव सवाल भी होंगे ताकि टैक्सपेयर्स आसानी से आईटीआर फॉर्म भरकर जमा कर सकें। इसमें, सूचनाएं पहले से ही भरी गई होंगी।

पाक में दो ट्रेनों की आमने-सामने की भिडंतः देश में नया नहीं है रेल दुर्घटना

इससे टैक्सपेयर्स को डेटा एंट्री नहीं करनी होगी। TDS और SFT विवरण के अपलोड होने के बाद वेतन आय, ब्याज, लाभांश और पूंजीगत लाभ को पहले से ही भरने की विस्तृत क्षमता उपलब्ध होगी जिसकी अंतिम तिथि 30 जून, 2021 है। टैक्सपेयर्स की मदद के लिए इसमें एक नया कॉलसेंटर होगा।

इसमें सवालों के जवाब जल्दी से मिल जाएंगे। इसमें ट्यूटोरियल के साथ-साथ वीडियो और चैटबॉट भी होगा, लाइव एजेंट भी होंगे। नए पोर्टल पर नया टेक्स पेमेंट सिस्टम लागू किया जाएगा। इसमें कई तरह के पेमेंट ऑप्शन भी मिलेंगे। इसमें नेटबैंकिंग, UPI , क्रेडिट कार्ड और RTGS/NEFTऔर सभी बैंकों से लेन-देन की सुविधाएं शामिल रहेंगी।

Related Articles

Back to top button