State

भज्जी ने भिंडरवाले को शहीद कहा, विवाद के बीच जमकर हुए ट्रोल, माफी मांगी

Bhajji calls Bhindranwale a martyr, trolls fiercely amid controversy, apologizes

ऑपरेशन ब्लू स्टार की 37वीं बरसी पर इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की स्टोरी


नया लुक ब्यूरो


नई दिल्ली। फिरकी गेंदबाज हरभजन सिंह एक नए विवाद में फंस गए हैं। उन्होने खालिस्तानी आतंकी जरनैल सिंह भिंडरावाले को शहीद कह दिया। हरभजन ने ऑपरेशन ब्लू स्टार की 37वीं बरसी पर अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक स्टोरी शेयर कर रहे थे। इसमें लिखा, ‘सम्मान के साथ जीना और धर्म के लिए मरना। 1 जून से 6 जून 1984 को सचखंड  हरिमंदर साहिब पर शहीद होने वाले सिंह-सिंहनियों की शहादत को प्रणाम।’ हरभजन ने अपनी इंस्टा स्टोरी में भिंडरावाले का नाम नहीं लिया, लेकिन उन्होंने जो फोटो शेयर की, उसमें खालिस्तानी आतंकी भिंडरावाले की तस्वीर भी थी। इसके बाद देखते ही देखते भज्जी सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल होने लगे। हरभजन के पोस्ट की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हुई है। सोशल मीडिया यूजर्स ने लिखा है कि हरभजन को भारत में रहने का अधिकार नहीं है। यूजर्स ने उनके खिलाफ FIR दर्ज करने की भी मांग की है। अनामिका यादव नाम की एक यूजर ने लिखा- इस तरह के बयान को लेकर BCCI को तत्काल हरभजन पर कार्रवाई करनी चाहिए।

दवा कारोबारी ने पत्नी व बच्चों समेत फांसी लगायी, सुसाइड नोट मे आर्थिक तंगी का हवाला

उनके खिलाफ FIR दर्ज होनी चाहिए। हरभजन को जितने अवॉर्ड मिले, वह भी वापस ले लेने चाहिए। सूरज कौल ने लिखा- हरभजन सिंह ने पहले शाहिद अफरीदी की फाउंडेशन के लिए डोनेशन की अपील की थी। अब वे खालिस्तानी आतंकी, जिसने हजारों लोगों की हत्या की, उसे शहीद कह रहे हैं। यह शर्मनाक है। भारत भक्त नाम के यूजर्स ने लिखा- मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि जब वर्ल्ड कप में भारत की जीत हुई, तब आप तिरंगा लेकर रोए थे और अभी आप ऐसे व्यक्ति का महिमा मंडन कर रहे हैं, जो देशद्रोही था। आपने अपना सम्मान खो दिया।

इसके बाद हरभजन ने इसके लिए सोशल मीडिया पर माफी मांगी है। उन्होंने लिखा कि मैं कल के अपने पोस्ट के लिए माफी मांगता हूं। यह एक व्हाट्सएप पर फॉरवर्ड किया हुआ मैसेज था और मैंने इसे बिना चेक किए शेयर कर दिया। ये मेरी गलती थी, मुझे माफ कर दीजिए। मैं किसी भी स्थिति में उस फोटो में दिए गए मैसेज और फोटो को सपोर्ट नहीं करता हूं। हरभजन ने कहा- मैं एक सिख हूं, जो भारत के लिए लड़ेगा, भारत के खिलाफ नहीं। मैं अपने राष्ट्र की भावनाओं को आहत करने के लिए माफी मांगता हूं। मैंने 20 साल तक इस देश के लिए अपना खून-पसीना दिया है और कभी भी किसी ऐसी चीज का समर्थन नहीं करूंगा जो राष्ट्र विरोधी हो।

Related Articles

Back to top button