Nationalराष्ट्रीय

उप्र कांग्रेस का सेवा सत्याग्रह: 10 लाख दवाओं की किट और गांव-गांव सेनेजाइजेशन

Seva Satyagraha of UP Congress: 10 lakh drug kits and village-to-village senesation

गांव-गांव जा रहा प्रियंका गांधी का पत्र


कोरोना महामारी की दूसरी लहर में कांग्रेस जनता की सेवा के लिए सेवा सत्याग्रह शुरू किया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी में 10 लाख दवाओं की किट भेजी हैं। दवाओं की पहली खेप लखनऊ के आसपास जिलों के लिए रवाना भी कर दी। गौरतलब है, कि ग्रामीण इलाकों में लचर स्वास्थ्य व्यवस्था के चलते बुखार तक की दवाओं की भारी किल्लत है। कांग्रेस द्वारा बांटी जाने वाली होम आइसोलेशन कोरोना उपचार किट से लोगों को काफी राहत मिलेगी।

होम आइसोलेशन कोरोना उपचार किट में छः दवाओं के पत्ते हैं। हर दवा के इस्तेमाल करने के निर्देश भी किट पर लिखे हैं। कांग्रेस अपने ब्लॉक अध्यक्षों के जरिये चिकित्सकों के परामर्श पर यह किट वितरित करेंगे। सिर्फ इतना ही नहीं सेवा सत्याग्रह अभियान के तहत गांवों को सेनेजाइजेशन भी किया जाना है। सेनेटाइजर की 18 हज़ार लीटर की पहली खेप भी लखनऊ पहुंच चुकी है। सेवा के साथ साथ प्रियंका की पाती हर गांव पहुचायेंगे  कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पंचायत चुनावों में जीते हुए प्रतिनिधियों से पत्र के जरिये संवाद कर रहीं हैं। इसके पहले प्रधानों को नए साल महासचिव ने कार्ड भेजकर शुभकामनाएं दी थीं।

इसबार प्रियंका गांधी ने पंचायत प्रतिनिधियों को भेजे गए खत में जीत की बधाई के साथ कोरोना महामारी में सहयोग करने की अपील की है। प्रियंका गांधी ने अपनी पाती में लिखा है कि यह स्पष्ट हो चुका है कि सरकार की अधिकतम चिंता लोगों की जिंदगी बचाने में नहीं है बल्कि एक नेता की छवि बचाने में हैं। उन्होंने आगे लिखा है कि हमारे लिये दुर्भाग्य की बात है कि सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता देश होने के बावजूद देश में वैक्सीन की कमी है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि इंसानियत का यह तकाज़ा है कि राजनीतिक मतभेद से ऊपर उठकर हम सबकी मदद करें। पूरे सूबे के नव निर्वाचित प्रधानों, बीडीसी और जिला पंचायत सदस्यों को महासचिव प्रियंका गांधी का खत कांग्रेसी गांव-गांव पहुँचाने में लगे हैं। सेवा के साथ-साथ महासचिव प्रियंका गांधी ने गंवई राजनीति के धुरंधरों से अपनी पाती के जरिये संवाद कर रही हैं।

Related Articles

Back to top button