Madhya Pradesh

हैवानगीः बेटे के सामने प्रैग्नेंट मां से बलात्कार

Disgrace: Pregnant mother raped in front of son

मध्यप्रदेश के छतरपुर का है मामला

भोपाल। यह हैवानगी की हद पार करने वाली खबर मध्यप्रदेश से है। एक दलित ने पेड़ काटने से इंकार क्या किया, दबंगों ने उसे इतनी बड़ी सजा दे डाली। खबर पढ़कर आप दांतों तले उंगली दबाने को मजबूर हो जाएंगे और आपको यह जरूर लगेगा कि अब अभी 10वीं सदी की दास्तान पढ़ रहे हैं। सूबे की राजधानी भोपाल से तकरीबन 350 किमी दूर छतरपुर के एक दलित परिवार को कुछ दबंगों ने पेड़ काटने के लिए कहा।

कोरोना की दवा 2-डीजी 990 में मिलेगी, संक्रमित मरीजों की पहुंच में रहेगी कीमत

उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र बांदा से सटा हुआ छतरपुर जिला बुंदेलखंड का ही हिस्सा माना जाता है। बांदा, महोबा और छतरपुर में रोटी-बेटी का रिश्ता सदियों से हैं। वहां के लोग एक-दूसरे को अलग राज्य का मान ही नहीं पाते हैं। खबरों के अनुसार लॉकडाउन और गरीबी का हवाला देते हुए उस दलित ने पेड़ काटने से मना कर दिया। यही बात उन दबंगों को नागवार गुजरी। उसके बाद पूरे परिवार को किडनैप कर लिया।

मां, पति-पत्नी और दो बच्चों को किडनैप करने के बाद उन्होंने करीब चार दिनों तक लम्बी यातनाएं दी। इसके बाद भी उनका मन नहीं भरा तो बच्चे के सामने मां के साथ बलात्कार कर दिया। वो उस महिला के साथ जो पहले से प्रैग्नेंट थी और मां तीसरी बार बनने का सपना संजो रही थी। खबरों के अनुसार मामला पुलिस तक पहुंच गया है और पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

Related Articles

Back to top button