Biz News

हीरो मोटोकॉर्प ने संचयी उत्पादन में 100 मिलियन का ऐतिहासिक आंकड़ा पार किया

यह उपलब्धि हासिल करने वाला भारत का एकमात्र ऑटोमोटिव विनिर्माता बना

  • ‘‘परिवहन का भविष्य बनने’’ के अपने लक्ष्य को पाने के लिये प्रतिबद्ध
  • नये परिवहन समाधानों को बनाने पर ध्‍यान केन्द्रित किया
  • नये बाजारों में प्रवेश के साथ वैश्विक विस्तार जारी रखा
  • अगले 5 वर्षों में हर साल दस से ज्यादा उत्पाद लॉन्च होंगे, जिनमें प्रीमियम मोटरसाइकलों की एक श्रृंखला शामिल है

लखनऊ। ‘‘हीरो मोटोकॉर्प विश्व के करोड़ों लोगों की आकांक्षाओं के अनुसार परिवहन प्रदान करने में आगे रहा है और यह उपलब्धि विकसित होती इंजिनियरिंग, परिचालन में उत्कृष्टता और स्थायी पद्धतियों की सफलता है। यह इस भरोसे और आस्था पर निर्मित हमारे पूरे इकोसिस्टम की भी सफलता है, जो कंपनी के साथ बढ़ती रही है। सबसे महत्वपूर्ण, यह उन ग्राहकों का जश्न है, जिन्होंने हीरो पर अपना प्यार और विश्वास जताना जारी रखा है। यह महत्वपूर्ण उपलब्धि भारत में निहित क्षमताओं और हीरो की ब्राण्ड अपील की पुष्टि भी करती है। हम भारत में विश्व के लिये निर्माण करते हैं- और यह उपलब्धि विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों, जनसांख्यिकी और पीढ़ियों में हीरो के लिये ग्राहकों की चाहत दर्शाती है।

हम अपनी वृद्धि की यात्रा जारी रखने वाले हैं। ‘परिवहन का भविष्य बनने’ के अपने लक्ष्य के अनुसार हम अगले 5 वर्षों में कई नई मोटरसाइकिलें और स्कूटर्स लॉन्च करेंगे, साथ ही अपना वैश्विक विस्तार भी करेंगे। हम शोध एवं विकास में निवेश भी जारी रखेंगे और परिवहन के नये समाधानों पर केन्द्रित होंगे।                           – डॉ. पवन मुंजाल, चेयरमैन और सीईओ, हीरो मोटोकॉर्प

रिलायंस-फ्यूचर समूह के सौदे को सेबी की मंजूर

विश्व में मोटरसाइकिलों और स्कूटरों के सबसे बड़े निर्माता हीरो मोटोकॉर्प ने आज संचयी उत्पादन में 100 मिलियन (10 करोड़) यूनिट्स का आंकड़ा पार करने की महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। उत्तर भारत के पहाड़ी राज्य उत्तराखण्ड के हरिद्वार में स्थित कंपनी की विनिर्माण सुविधा से 100 मिलियनवीं बाइक एक्सट्रीम 160 आर को रोल-आउट किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button