National

Big News : अर्नब की चैट के खुलासे से सियासत में भूचाल: अर्णब को बालाकोट स्ट्राइक और 370 हटाने जैसे फैसले पहले से पता थे!

  •  सोशल मीडिया पोस्ट्स में दावा किया जा रहा है कि अर्नब और BARC के पूर्व CEO पार्थो दासगुप्ता के बीच यह बातचीत 2019 में हुई थी।

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बारे में रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को पहले से पता था। ये दावा ऑल्ट न्यूज के को-फाउंडर प्रतीक सिन्हा ने किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वॉट्सऐप चैट का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है। सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने भी अपनी सोशल मीडिया पोस्ट में कहा है कि जिस पुलवामा हमले में 40 जवान शहीद हुए, अर्नब ने उसका जश्न मनाया था। अर्नब को बालाकोट स्ट्राइक की जानकारी भी 3 दिन पहले मिल गई थी। अर्नब को कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बारे में भी पहले से पता था।

सोशल मीडिया पोस्ट्स में दावा किया जा रहा है कि अर्नब और BARC के पूर्व CEO पार्थो दासगुप्ता के बीच यह बातचीत 2019 में हुई थी। इसे मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच के पास मौजूद 500 पेज की वॉट्सऐप चैट का हिस्सा बताया जा रहा है। टीआरपी घोटाले की जांच कर रही मुंबई क्राइम ब्रांच ने हाल ही में 3,600 पन्नों का सप्लीमेंट्री चार्टशीट मुंबई हाईकोर्ट में दाखिल किया है। इसमें पेज नंबर 1994 से 2504 तक अर्नब और दासगुप्ता के बीच हुई वॉट्सऐप चैट का ब्यौरा है।

कांग्रेस के सवाल पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा, ‘अगर मीडिया के एक धड़े की रिपोर्टिंग सही है तो सवाल यह है कि बालाकोट स्ट्राइक और 2019 के आम चुनाव के बीच कोई संबंध है? क्या चुनाव में फायदे के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा को मुद्दा बनाया गया। इसकी संयुक्त संसदीय समिति (JPC) से जांच होनी चाहिए।’

वहीं, कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने सोशल मीडिया पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को टैग कर पूछा कि इस बात की क्या गारंटी है कि अर्नब के सोर्सेस से ये जानकारी पाकिस्तान के पास नहीं पहुंची होगी?

यदि हाँ, तो इस बात की क्या गारंटी है कि उनके स्रोतों ने पाकिस्तान के साथ काम करने वाले जासूसों या मुखबिरों सहित अन्य लोगों के साथ भी जानकारी साझा नहीं की होगी?

राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी गोपनीय निर्णय की जानकारी सरकार-समर्थक पत्रकार को कैसे मिली?

पुलिस ने माना- वायरल चैट चार्जशीट का हिस्सा

मीडिया में यह चैट लीक होने के बाद सहायक पुलिस आयुक्त सचिन वजे ने माना कि यह चैट हाईकोर्ट में दाखिल की गई सप्लीमेंट्री चार्जशीट का हिस्सा है। लेकिन, यह मीडिया तक कैसे पहुंची। इसकी जानकारी उन्हें नहीं है।

क्या अर्नब की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं: अर्नब गोस्वामी और BARC के पूर्व CEO के बीच हुई वॉट्सऐप चैट लीक होने की खबर

अर्नब और BARC के पूर्व CEO के बीच की जो चैट प्रतीक सिन्हा ने शेयर की है, उसमें अर्नब ने लिखा है कि स्ट्राइक करके चुनाव जीता जाएगा।

प्रशांत भूषण का दावा- चुनाव के लिए नेशनल सिक्युरिटी की भी परवाह नहीं की गई।

इससे पहले शुक्रवार को भी प्रशांत भूषण ने सोशल मीडिया पोस्ट लिखी थी। इसमें उन्होंने एक वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट्स शेयर किए थे। इनमें एक नाम अर्नब का नजर आ रहा है, जबकि दूसरे नाम के बारे में दावा किया जा रहा है कि वे पार्थो दासगुप्ता हैं। दासगुप्ता ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल यानी BARC के 2013 से 2019 के बीच CEO थे। फेक TRP स्कैम में उनकी गिरफ्तारी हो चुकी है। BARC वह संस्था है, जो देश के 45 हजार घरों में टीवी पर लगे बार-ओ-मीटर के जरिए हर हफ्ते बताती है कि कौन सा चैनल कितना देखा जा रहा है।

हम यहां बता रहे हैं कि वायरल हो रहे इन चैट स्क्रीनशॉट्स में लिखा क्या है…

स्क्रीनशॉट 1: स्ट्राइक से 3 दिन पहले कुछ बड़ा होने का अर्नब का दावा

प्रतीक सिन्हा ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं, उसमें अर्नब गोस्वामी कह रहे हैं, कुछ बड़ा होना है। ये स्क्रीनशॉट्स 23 फरवरी 2019 के हैं। यानी बालाकोट स्ट्राइक से 3 दिन पहले। इसी बातचीत में BARC के CEO पूछते हैं, क्या दाऊद? अर्नब बोलते हैं- नहीं, पाकिस्तान। कुछ बड़ा होने वाला है। BARC के CEO पूछते हैं कि क्या स्ट्राइक होने वाली है या उससे बड़ा? चैट में अर्नब दावा करते हैं कि सरकार को भरोसा है कि स्ट्राइक जनता को खुश कर देगी।

स्क्रीनशॉट 2: एयर स्ट्राइक के बाद अर्नब ने कहा- अभी और भी कुछ होना है
ये चैट 27 फरवरी की है। इसमें BARC के CEO कहते हैं कि कल की एयर स्ट्राइक वही है, जिसके बारे में आपने बताया था या फिर कुछ और होने वाला है। इसके जवाब में अर्नब कहते हैं कि और भी कुछ होने वाला है।

स्क्रीनशॉट 3: पुलवामा हमले के दिन को चैनल की बड़ी जीत बताया  इसमें अर्नब कह रहे हैं- इस हमले में हमारे चैनल की बड़ी जीत है। ये चैट 14 फरवरी की है। इसमें अर्नब पुलवामा हमले के दौरान की कवरेज का जिक्र कर रहे हैं।

5 अगस्त 2019 को सरकार ने कश्मीर से आर्टिकल-370 हटाया था। तीन दिन पहले यानी 2 अगस्त को ही दासगुप्ता अर्नब से पूछते हैं कि क्या आर्टिकल-370 हटने वाला है। इसके जवाब में अर्नब कहते हैं मैंने ब्रेकिंग न्यूज में प्लेटिनम स्टैंडर्ड सेट किया है। ये हमारी खबर है। अर्नब चार अगस्त की चैट में कश्मीर में धारा-144 लगाए जाने की खबर भी सबसे पहले ब्रेक करने का दावा करते हैं।
अर्नब ने ऋतिक को बेवकूफ और कंगना को सिजोफ्रेनिया रोगी बताया

स्क्रीनशॉट 4: इसमें अर्नब एक्टर ऋतिक रोशन और कंगना रनोट को लेकर बात कर रहे हैं। अर्नब कहते हैं कि मेरी नजर में ऋतिक बेवकूफ है और कंगना को सिजोफ्रेनिया है।

दासगुप्ता बीमार, अस्पताल ले जाए गए

इस बीच दासगुप्ता की सेहत शनिवार को अचानक खराब हो गई। इसके बाद उन्हें मुंबई के जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया। सूत्रों के मुताबिक, दासगुप्ता डायबिटीज के मरीज हैं और उनका शुगर लेवल बढ़ गया था। फिलहाल वे ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं।(भास्कर से साभार)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button