Religion

दोपहर 12: 0 0  से दोपहर 0 1: 30 तक रहेगा राहुकाल, साथ ही जानें आज का हिन्दू पंचांग

          डॉ. उमाशंकर मिश्र

हर दिन कुछ खास लेकर आता है। इस दिन क्या पर्व है और क्या तिथि है इस बारे में जान लेने से हमें कई फायदे होते हैं। एक दिन के अंदर एक बार राहुकाल आता है, जो हमें कहता है कि इस समय आपको थोड़ी सावधानी बरतनी है। साथ ही पंचाग हमें ये भी बताता है कि आज किस दिशा की ओर दिशाशूल है। यदि हमें मजबूरन यात्रा भी करनी है तो वह उसका निदान भी बताता है। इसलिए नया लुक आपको नित्य पंचाग देता है, देखिए और लाभ लीजिए।

दिनांक 13 जनवरी 2021

दिन –                            बुधवार

विक्रम संवत –                 2077

शक संवत –                     1942

अयन –                          दक्षिणायन

ऋतु –                             शिशिर

मास –                             पौष

पक्ष –                             कृष्ण

तिथि –                          अमावस्या सुबह 10: 37 तक तत्पश्चात प्रतिपदा

नक्षत्र –                     उत्तराषाढा 14 जनवरी प्रातः 05: 52 तक  तत्पश्चात श्रवण

योग –                         हर्षण रात्रि 12: 57 तक तत्पश्चात वज्र

राहुकाल –                  दोपहर 12: 0 0  से दोपहर 0 1: 30 तक

सूर्योदय –                     0 6: 43

सूर्यास्त –                       17: 17

दिशाशूल –                  उत्तर दिशा में

व्रत पर्व विवरण –

 विशेष – अमावस्या के दिन ब्रह्मचर्य पालन करे तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।

पंचक

15 जनवरी सायं 5.04 बजे से 20 जनवरी दोपहर 12.37 बजे तक

12 फरवरी रात्रि 2.11 बजे से 16 फरवरी रात्रि 8.55 बजे तक

30 बुधवार                                  मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत

जनवरी 2021:   रविवार, 24 जनवरी 2021- पौष पुत्रदा एकादशी

रविवार, 07 फरवरी 2021-                 षटतिला एकादशी

प्रदोष व्रत

26 जनवरी:                                         भौम प्रदोष व्रत

पौष अमावस्या-                                 बुधवार, 13 जनवरी 2021

दर्श अमावस्या, माघ अमावस्या-     गुरुवार, 11 फरवरी 2021

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live Updates COVID-19 CASES