International

चीन में 477 कोरोना पीड़ितों को अस्पताल से छुट्टी, अमेरिका में बढ़ रहा संकट

  • कोरोना वायरस से अमेरिका में त्राहिमाम, संक्रमित लोगों की संख्या एक लाख के पार
  • इसाइयों के धर्म गुरु पोप फ्रांसिस कोविड-19 टेस्ट में निगेटिव, एक सहयोगी संक्रमित

न्यूयार्क/बीजींग/वेटिकन सिटी। कातिल कोरोना वायरस (कोविड-19) अब चीन को छोड़ अन्य देशों को अपनी गिरफ्त में लेने पर आमादा है। समाजार एजेंसी शिन्हुआ को अनुसार चीन में कोविड-19 से संक्रमित 477 मरीजों को अस्पताल से शनिवार को छुट्टी दे दी गई। इस खबर की पुष्टि करते हुए चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने रविवार को बताया कि देश में अब तक इससे संक्रमित 75,448 मरीजों को ठीक किया जा चुका है और उन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी भी दी जा चुकी है। आयोग के अनुसार चीन में कुल 81,439 इस वायरस से संक्रमित हुए है, जिसमें से 3,300 लोगों की मौत हो चुकी है।

वहीं ईसाइयों के धर्म गुरु पोप फ्रांसिस कोविड-19 टेस्ट में निगेटिव पाये गये हैं, जबकि वेटिकन सिटी में छह लोगों में इस संक्रमण के पाये जाने की पुष्टि हुई है। वेटिकन सिटी के प्रवक्ता माटेओ ब्रूनी कहते हैं कि मैं कह सकता हूं कि फादर और उनका निकटतम सहयोगी कोविड-19 पॉजिटिव नहीं हैं। प्रवक्ता के अनुसार वेटिकन सिटी में छह लोग इस घातक विषाणु से संक्रमित हैं। कुल 170 लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट किया गया था, जो पोप के सम्पर्क में आए थे। इनमें से एक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

इसके अलावा सऊदी अरब ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कर्मचारियों के कार्यस्थल पर आने पर लगी अस्थायी रोक की अवधि बढ़ा ही है और साथ ही अंतरराष्ट्रीय और घरेलू यात्राओं पर लगी पाबंदी की सीमा भी बढ़ा दी है। सऊदी प्रेस एजेंसी ने रविवार सुबह अपनी रिपोर्ट में बताया कि सरकार और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को अपने कार्यस्थल पर आने की अनुमति नहीं होगी। बताते चलें कि सऊदी सरकार ने 16 मार्च को सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को काम पर आने पर पाबंदी लगा दी थी। इससे पहले सरकार ने 15 मार्च को अंतरराष्ट्रीय तथा घरेलू यात्रियों को अगले आदेश तक यात्रा करने से प्रतिबंधित कर दिया था और सऊदी अरब से उड़ने वाली और दूसरे देशों से सऊदी अरब आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी थी। साथ ही यहां सोमवार को स्थानीय समय के अनुसार शाम सात बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू है। सऊदी में अब तक 1203 लोग कोविड-19 से संक्रमित हुए हैं तथा चार लोगों की मौत हुई है।

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प अभी भी लॉक डाउन के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 के प्रसार के बीच देश में क्वारंटाइन नहीं लगाया जाएगा, बल्कि न्यूयॉर्क, न्यू जर्सी तथा कनेक्टिकट के लिए यात्रा परामर्श जारी किया जाएगा। उन्होंने शनिवार को ट्वीट किया कि व्हाइट हाउस के कोरोना वायरस टास्क फोर्स की सिफारिश और न्यूयॉर्क, न्यू जर्सी तथा कनेक्टिकट के गवर्नरों के वार्ता के बाद मैंने अल्प समय के लिए इन जगहों पर सख्त यात्रा परामर्श जारी करने के लिए कहा है। क्वारंटाइन की जरूरत नहीं है। विस्तृत जानकारी रोग नियंत्रण एवं निवारण केंद्र आज रात जारी करेगा। धन्यवाद।

बताते चलें कि मौजूदा समय में चीन से ज्यादा लोग अमेरिका में संक्रमित हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में अमेरिका में घातक वायरस कोविड-19 के चलते 345 लोगों की मौत हुई है। सिर्फ एक दिन में कोरोना वायरस के संक्रमण के 18,000 नए मामले सामने आए हैं। अमेरिका में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या अब 1695 के करीब पहुंच गई है, जबकि एक लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस के गंभीर संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। ट्रंप ने देश की ऑटोमोबाइल कंपनियों जनरल मोटर्स और फोर्ड से अब गाड़ियों के निर्माण की बजाए वेंटिलेटर मशीन तैयार करने को कहा है। वैश्विक महामारी बन चुका कोविड- 19 अमेरिका में पिछले कुछ दिनों से बहुत तेजी से फैल रहा है।

Related Articles

Back to top button
Live Updates COVID-19 CASES