बिम्सटेक अंतर्राष्ट्रीय शिखर सम्मेलन की सुरक्षा सेना के हवाले

अरुण वर्मा
काठमाण्डू(नेपाल)। नेपाल में होने वाले अंतर्राष्ट्रीय बिम्सटेक शिखर सम्मेलन की सुरक्षा व्यवस्था नेपाल सरकार ने नेपाली सेना को सुपूर्द किया है। जिसमें नेपाली सेना, प्रहरी व सशस्त्र प्रहरी बल की एकीकृत सुरक्षा प्रणाली बना इसकी निगहबानी की जाएगी। जिसका नेतृत्व नेपाली सेना करेगी। विभिन्न देशों से सम्मेलन में हिस्सा लेने आ रहे देश के राष्ट्राध्यक्षों, सरकार प्रमुख व उच्चाधिकारियों की सुरक्षा के लिए सुरक्षा के लिए चार घेरे बनाये जाएंगे।
नेपाल में आगामी 30 व 31 अगस्त को होने वाले बिंद7अंतर्राष्ट्रीय शिखर सम्मेलन के सुरक्षा की जिम्मेदारी नेपाल सरकार द्वारा नेपाली सेना के हवाले किया है। जिसमें खुफिया एजेंसियों से लगायत नेपाल प्रहरी, सशस्त्र प्रहरी बल सहित अन्य सुरक्षा इकाइयों की टीम को लगाया जाएगा। सूचनाओं के आदान प्रदान के लिए कमांड ऑफिस बनाया जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुरक्षा व्यवस्था चुस्त दुरुस्त रखने के लिए कार्यक्रम स्थल व भ्रमण स्थलों पर जैमर लगा 5 किलोमीटर की परिधि में मोबाइल नेटवर्क वाधित रखा जाएगा। इस दौरान वाहन स्कैनर अत्याधुनिक मशीन का भी प्रयोग किया जाएगा। वही 29 अदद थ्रू स्कैनर भी सुरक्षा व्यवस्था में लगाये जायेंगे। भ्रमनस्थल सहित आयोजित कार्यक्रम स्थल के इर्दगिर्द एक सौ पचास मेटल डिटेक्टर व डॉग स्क्वायड टीम की भी व्यवस्था की गई है। सुरक्षा व्यवस्था में समन्वय स्थापित करने के लिए प्रहरी प्रधान कार्यालय कार्य विभाग अन्तर्गत पूर्व तयारी कमेटी बनायी गई है। महानगरीय प्रहरी कार्यालय के प्रमुख डीआईजी मनोज न्यौपाने ने सम्पूर्ण सुरक्षा तैयारी के बारे में जानकारी देते हुए कहां कि सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी है। दिन सोमवार को त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय विमानस्थल से लेकर भ्रमनस्थल सहित कार्यक्रम स्थल तक सुरक्षा रिहर्सल का जायज़ा लिया गया। नेपाल प्रहरी प्रवक्ता शैलेश थापा ने बताया कि उक्त शिखर सम्मेलन में उच्च सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

बिम्सटेक शिखर सम्मेलन की सुरक्षा के लिए अत्याधुनिक उपकरणो की हुई खरीददारी
नेपाल प्रहरी द्वारा बिम्सटेक अंतरराष्ट्रीय शिखर सम्मेलन की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अत्याधुनिक सुरक्षा उपकरणों की खरीददारी की है। जिसमें वाहन स्कैनर, पोर्टेबल स्कैनर, वाक थ्रू गेट, रेडियो रिपीटर सिस्टम सहित 50 मेटल डिटेक्टर है। मंत्रिपरिषद द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार इसकी खरीददारी की गई है। नेपाल प्रहरी के एक उच्चाधिकारी के अनुसार वित्तमंत्रालय द्वारा धन हस्तांतरण में लेटलतीफी के कारण आन्तरिक श्रोत द्वारा इसकी खरीदारी की गई है।

ऐसे की गई है सुरक्षा व्यवस्था की तैयारी

सुरक्षा चक्र का पहला घेरा : नेपाली सेना
सुरक्षा चक्र का दूसरा घेरा : नेपाल प्रहरी
सुरक्षा व्यवस्था का तीसरा घेरा : सशस्त्र प्रहरी
सुरक्षा व्यवस्था का चौथा घेरा : राष्ट्रिय अनुसन्धान विभाग
सुरक्षा व्यवस्था में प्रयोग किये जाने वाले आधुनिक संसाधन
जैमर : तीन अदद
वाहन स्कैनर: 4 अदद
पोर्टेबल ब्यागेज स्कैनर : 2 अदद
वाक थ्रु गेट : 29 अदद
रेडियो रिपिटर सिस्टम : 8 अदद
मेटल डिटेक्टर : 150 अदद

Covid19 World