एसएसपी खत्री ने किया कोर्ट में सरेंडर

अरुण वर्मा
नया लुक, काठमाण्डू (नेपाल)। नेपाल पुलिस के एसएसपी श्याम खत्री ने मोरंग जिला न्यायालय में अपने को सरेंडर कर दिया है। उनपर आरोप है कि विगत माह व्यापक पैमाने पर हुयी सोने की तस्करी में चूड़ामणि उप्रेती उर्फ गोर को पैसा ले सहयोग किया था।
मिली जानकारी के अनुसार विगत माह त्रिभुवन हवाई अड्डे से विदेश से आया करीब 33 किलो 500 ग्राम तस्करी का सोना अचानक ही विमान स्थल से ही गायब हो गया था जिसमे एसएसपी श्याम खत्री पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने इसमे अपने पद का दुरुपयोग करते हुए तस्करी का मास्टरमाइंड चूड़ामणि उप्रेती का सहयोग किया था, उक्त मामले को लेकर खत्री फरार चल रहे थे पर शासन प्रशासन के दबाव में उन्हें कोर्ट के सामने सरेंडर करना पड़ा। अब देखना यह है कि उनकी सुनवाई कैसे की जा रही है। चूड़ामणि उप्रेती उर्फ ​​गोर, पिछले कुछ वर्षों में नेपाल में करीब 3,800 किलो सोने की तस्करी के पीछे तस्करी का मास्टरमाइंड माना जाता है। उसने ही एसएसपी खत्री को रिश्वत देकर नेपाल के ही अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के माध्यम से तस्करी का सोना गायब करवा दिया था। खत्री के अनुसार गोर 50,000 रुपये प्रति किलोग्राम की रिश्वत का सौदा कर विमान स्थल सोना को बाहर निकालने की उकसाया था। अंतरराष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन ने खत्री के खिलाफ पहले से ही एक नोटिस जारी कर दिया था। लगभग दो साल पहले, पुलिस ने एक और सोने के तस्करी मामले के संबंध में खत्री को गिरफ्तार किया था। हालांकि, अदालत ने उसे बरी कर दिया था।

Covid19 World