पेन किलर से ज्‍यादा फायदेमंद किस, और भी हैं ढेरों फायदे

नया लुक डेस्क। अपने पहले किस का एहसास कोई नहीं भूलता। ‘किस’ या चुंबन प्यार के एहसास को गहराई से महसूस करने का प्रतीक है। अकसर कपल्स अपनी भावना को जाहिर करने के लिए किस करते हैं पर उन्हें ये नहीं पता होगा के इस किस के और भी फायदे हैं। किस न केवल प्रेमाभिव्‍यक्ति का माध्‍यम है, बल्कि स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी यह बहुत फायदेमंद होता है। हम आपको बता रहे हैं किस के फायदे।

किस बढाती प्रतिरोधक क्षमता

जर्नल मेडिकल हायपोथेसिस में प्रकाशित एक अध्‍ययन के अनुसार चुंबन से महिलाओं की रोग प्रतिरक्षा प्रणाली में इजाफा होता है, जिससे वे साइटोमेगालोवायरस से बची रह सकती हैं। साइटोमेगालोवायरस मुंह से मुंह के संपर्क में आने से फैलता है। अगर गर्भावस्‍था के दौरान महिला के शरीर में यह वायरस हो तो, नवजात में अंधापन और अन्‍य कई जन्‍मजात रोग हो सकते हैं। वरना, आमतौर पर व्‍यस्‍कों के लिए यह वायरस नुकसानदेह नहीं होता। किसिंग को काफी लंबे समय से बग्‍स को एक दूसरे के शरीर में पहुंचाने का माध्‍यम माना जाता है, जिससे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली अधिक सक्षम होती है।

बर्न करती है कैलोरी

अलग-अलग रिपोर्टों के मुताबिक किसिंग कैलोरी कम करने में भी मददगार होती है। एक मिनट तक किस करने से आप दो से छह कैलोरी कम कर सकते हैं। इसमें ट्रेडमिल पर दौड़ने जितनी मेहनत नहीं लगती, लेकिन एक घंटे तक अगर कोई जोड़ा चुंबन का आनंद उठाता है, तो वह काफी कैलोरी खर्च कर सकता है। अब भले ही आपने इस बारे में न सोचा हो, लेकिन किसिंग का यह फायदा तो है ही।

चेहरे की मांसपेशियां होती हैं मजबूत

बेशक, जब बात शरीर को सही आकार में लाने की हो, तो सबसे पहले जांघों और पेट के आसपास जमा अतिरिक्‍त चर्बी को हटाने की कोशिश की जाती है। लेकिन, इस पूरी प्रक्रिया में अपने चेहरे को नहीं भूलना चाहिए। शोधकर्ताओं ने पाया है कि किसिंग और स्‍मूचिंग करते समय आप चेहरे की 30 मांसपेशियों का इस्‍तेमाल करते हैं। इससे आपके गाल सही आकार में रहते हैं।

रखती है तनाव मुक्‍त

वैज्ञानिक रिपोर्टों के मुताबिक किसिंग से आपके शरीर में ऑक्सटोसिन नामक हार्मोन का स्राव होता है। यह शरीर को तनाव मुक्‍त रखने में मदद करने वाला प्राकृतिक हार्मोन है। इसके साथ ही किसिंग से एंडोरफिन्‍स का भी स्‍तर बढ़ जाता है। इस हार्मोन से आप अपने बारे में अच्‍छा महसूस करते हैं। साथ ही किसिंग से डोपामाइन का स्‍तर भी शरीर में बढ़ जाता है, जिससे रोमांटिक संबंधों में मजबूती आती है।

कैविटी से बचाव में मददगार

अगर आप अपने दांतों को स्‍वस्‍थ बनाए रखना चाहते हैं, तो‍ किसिंग इसके लिए कारगर उपाय है। किसिंग से साल्विया का उत्‍पादन अधिक होता है। यह साल्विया दांतों में कैविटी, सड़न और प्‍लार्क पैदा करने वाले बैक्‍टीरिया को दूर करता है।

एलर्जी से भी बचाए

किसिंग से रक्‍त में एलजीई एंटीबॉडीज का स्‍तर कम होता है। यह एंटीबॉडीज हिस्‍टामाइन का स्राव करते हैं। यह हार्मोन एलर्जी जैसे छींकना और आंखों में पानी आने जैसी समस्‍याओं का कारण होता है। तो, किसिंग आपको इन सब तकलीफों से बचा सकती है।

दिल के लिए फायदेमंद

किसिंग रक्‍तचाप और कोलेस्‍ट्रोल को नियंत्रित रखती है। एक शोध के मुताबिक अपने पार्टनर को नियमित रूप से किस करने वाले लोगों में तनाव कम देखा जाता है। साथ ही वे अपने रिश्‍ते को लेकर अधिक संतुष्‍ट होते हैं, उनके शरीर में कोलेस्‍ट्रोल की मात्रा भी नियंत्रित रहती है। तनाव हृदय रोग के लिए काफी हद तक जिम्‍मेदार होता है। इसलिए किसिंग कई प्रकार से आपके दिल को स्‍वस्‍थ रख आपको कार्डियोवस्‍कुलर बीमारियों से बचाने में मदद करती है।

दर्द निवारक भी तो है किस

दिनभर काम करने के बाद आप पीठ दर्द की शिकायत से जूझ रहे हैं, तो पेन किलर लेने की बजाय आप अपने साथी के दो चुंबन ले सकते हैं। यह किसी भी पेन किलर से ज्‍यादा फायदेमंद है। और इससे दवाओं के जरिये होने वाले प्रतिगामी प्रभावों को भी नहीं झेलना पड़ता।