प्रेगनेंसी में इससे ज्यादा न करें वेट गेन

नयी दिल्ली। अक्सर देखा जाता है कि गर्भ धारण करते ही उस महिला को ज्यादा या कहें तो दो लोगों की खुराक लेने को कहा जाता है। अक्सर महिलाए करती भी ऐसा ही हैं। लेकिन जरुरी यही है की जरूरत के पोषक तत्व और कैलरीज मिल सकें उतना ही खाया जाए। दरअसल, प्रेग्नेंसी के दौरान एक महिला को हर दिन अपने मौजूदा डायट में सिर्फ 300 कैलरीज और ऐड करने की जरूरत होती है ताकि प्रेग्नेंसी के दौरान उनका सही वजन बना रहे। वैसे तो आपको अपनी गाइनैकॉल्जिस्ट से यह पूछना चाहिए कि आपके लिए कितना वेट गेन करना जरूरी है लेकिन कुछ स्टैटिस्टिक्स है जिसके जरिए आप खुद भी इस बात को समझ सकती हैं।

पहली तिमाही में 1 से 2 किलो वेट गेन करना चाहिए

आमतौर पर प्रेग्नेंसी के पहले तिमाही यानी 1 से 3 महीने के दौरान गर्भवती महिला को 1 से 2 किलो वेट गेन करना चाहिए और इसी हिसाब से प्रेग्नेंसी के बाकी बचे समय में हर 2 हफ्ते में करीब 1 किलो वेट गेन करना चाहिए। कुछ महिलाओं के लिए तो हर सप्ताह आधे किलो से कम का वेट गेन भी सफिशंट माना जाता है। अगर आप जुड़वां बच्चों की मां बनने वाली हैं तो 15 से 18 किलो का वेट गेन आपके लिए सही रहेगा जिसका मतलब है पहले ट्राईमेस्टर के यूजुअल वेट गेन के बाद हर सप्ताह करीब 1 किलोग्राम वेट गेन।

चेक करते रहें प्रेग्नेंसी वेट

प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिला को अपना वजन लगातार चेक करते रहना चाहिए क्योंकि आपके बहुत ज्यादा वजन का आपके बच्चे के वजन और सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। अगर गर्भधारण करते वक्त आप ओवरवेट थीं तो हो सकता है कि आपकी डॉक्टर आपको स्ट्रिक्ट डायट पर रखें ताकि आप किसी भी तरह से जरूरत से ज्यादा या अनहेल्दी वेट गेन न कर लें।