CM कुमारस्वामी की सफाई-राज्यपाल से मिलने का कार्यक्रम नहीं

  • कर्नाटक में विश्वास मत प्रस्ताव पर वोटिंग आज
  • एचडी कुमारस्वामी सरकार के सामने बहुमत साबित करने की चुनौती
  • बीजेपी के दावा- उसके पास है बहुमत
  • व्हिप पर फैसले के लिए SC में गई है कांग्रेस

 

नई दिल्ली। कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी सरकार का क्या होगा? इस सवाल का जवाब आज हर किसी को मिल सकता है. विधानसभा में चल रही विश्वास मत प्रस्ताव पर बहस आज खत्म हो सकती है, जिसके बाद मतदान होगा. ऐसे में कुमारस्वामी सरकार अपनी सरकार बचा पाएगी या नहीं, इस पर हर किसी की नज़र है।

View image on Twitter

राज्यपाल से CM का मिलने से इनकार

सीएम एच.डी कुमारस्वामी अब राज्यपाल वजूभाई वाला से नहीं मिलेंगे. माना जा रहा था कि वह शाम सात बजे राज्यपाल से मिलकर अपना इस्तीफा सौंप सकते हैं. लेकिन बाद में रिपोर्ट आई कि वह राज्यपाल से मिलने नहीं जा रहे हैं बल्कि वह विधानसभा स्पीकर से मिल रहे हैं।

इस्तीफा दे सकते हैं कुमार

स्वामीकर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी शाम में राज्यपाल से मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि वह अपना इस्तीफा सौंप सकते हैं क्योंकि विश्वासमत साबित करने के लिए उनके पास पर्याप्त संख्या नहीं है।

येदियुरप्पा बोले- जल्दी पहुंचे सभी MLA

कर्टनाक में जारी सियासी संकट के बीच बीजेपी ने दावा किया कि आज कुमारस्वामी सरकार का आखिरी दिन होगा, बीएस येदियुरप्पा रणनीति बनाने में जुटे. आज शाम को वोटिंग होगी. वहीं येदियुरप्पा ने सभी विधायकों से सदन पहुंचने को कहा।

अभी और विधायक देंगे इस्तीफा

कर्नाटक विधानसभा में बोलते हुए डीके शिवकुमार ने कहा कि बीजेपी को स्वीकार कर लेना चाहिए कि इस सबके पीछे वही है. उन्हें ये भी स्वीकार करना चाहिए कि वह बागी विधायकों के संपर्क में हैं और ऑपरेशन लोटस चला रहे हैं। फ्लोर टेस्ट से पहले बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा ने आजतक से बात की. उन्होंने कहा कि अभी 2-3 विधायक और भी इस्तीफा देंगे और भाजपा ज्वाइन करेंगे।

सदन नहीं पहुंचे BSP विधायक

बसपा विधायक एन. महेश आज भी विधानसभा नहीं पहुंचे हैं. बता दें कि बसपा प्रमुख मायावती ने अपने विधायक को कर्नाटक सरकार के हक में मतदान करने का आदेश दिया था, लेकिन अभी तक वह सदन में नहीं पहुंचे हैं. कुमारस्वामी सरकार के सामने पहले ही बहुमत जुटाने की चुनौती है, ऐसे में अब अगर वो नहीं आए तो ये मुश्किल और भी बढ़ सकती है।

कुमारस्वामी के ‘त्याग’ से ऐसे बच सकती है सरकार, ये 4 विधायक पलट सकते हैं कर्नाटक का गेम

कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली जनता दल सेक्यूलर-कांग्रेस गठबंधन सरकार के लिए सोमवार को अग्निपरीक्षा का दिन है. विधानसभा में फ्लोर टेस्ट होना है, जहां कुमारस्वामी सरकार को बहुमत साबित करना है. इससे पहले कर्नाटक के संकटमोचक माने जाने वाले मंत्री डीके शिवकुमार ने गठबंधन सरकार बचाने के लिए आखिरी दांव चला दिया है. बागी विधायकों को राजी करने के लिए सीएम कुमारस्वामी के स्थान पर किसी और मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है।