चिन्मयानंद-छात्रा समेत पांच आरोपियों की आवाज का होगा मिलान

नई दिल्ली। शाहजहांपुर के लॉ कॉलेज की एक छात्रा ने पूर्व मंत्री चिन्मयानंद पर एक साल तक यौन शोषण करने का आरोप लगाया था जबकि चिन्मयानंद के वकील ने छात्रा व उसके तीन दोस्तों पर पांच करोड़ की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया। दोनों मामलों में केस दर्ज हैं। एसआईटी ने चिन्मयानंद व छात्रा और उसके दोस्तों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। सभी शाहजहांपुर जेल में बंद हैं।

आज गृह राज्यमंत्री स्वामी  चिन्मयानंद, लॉ कॉलेज की छात्रा और उसके तीन दोस्तों के आवाज के नमूने लिए जाएंगे। इसके लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) पांचों आरोपियों को लेकर बुधवार सुबह शाहजहांपुर से लखनऊ के लिए रवाना हो चुकी है। लखनऊ के विधि विज्ञान प्रयोगशाला में पांचों आरोपियों के आवाज के नमूने लिए जाएंगे, जिसका वायरल हुए वीडियो से मिलान कराया जाएगा। सीजेएम कोर्ट की अनुमति मिलने के बाद एसआईटी ने यह कदम उठाया है।

इन वीडियो और आरोपियों की आवाज के मिलान के लिए एसआईटी की मांग पर चिन्मयानंद और छात्रा समेत सभी आरोपियों को बुधवार सुबह कड़ी सुरक्षा में लखनऊ के फोरेंसिक लैब ले जाया गया। गौरतलब है कि इन चौंकाने वाले वीडियो ने पूरे मामले की अबतक की जांच के दौरान बड़े खुलासे किए, जिसके बाद एसआईटी ने अदालत से लिखित रूप में सभी आरोपियों की आवाज मिलान करने की अनुमति मांगी थी।

शुक्रवार को कोर्ट ने एसआईटी की अर्जी को मंजूरी दे दी थी, जिसके बाद आज वीडियो की आवाज के साथ सभी आरोपियों की असल आवाज का मिलान किया जाएगा। इसी आधार पर वीडियो की प्रमाणिकता भी साबित होगी। हालांकि इससे पहले सभी वीडियो की फॉरेंसिक जांच करवाई जा चुकी है।