छात्रा के बयान के बाद गिरफ्तार हो सकते हैं चिन्मयानंद

शाहजहांपुर। आरोपों में घिरे पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद  काे यूपी पुलिस की  SITसोमवार को पीड़िता को लेकर स्थानीय अदालत पहुंची है, कुछ देर बाद अदालत में पीड़िता के बयान दर्ज करवाए जा सकते हैं, एसआईटी से जुड़े एक सूत्र ने नाम गोपनीय रखने शर्त पर बताया, ‘अब तक मामले से जुड़े बाकी तमाम गवाहों, शिकायतकर्ता का बयान एसआईटी दर्ज कर चुकी है, सबसे महत्वपूर्ण पीड़िता का बयान बचा था, जिसमें उसने चिन्मयानंद पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था।

पीड़िता का सीआरपीसी की धारा 164 के तहत यह महत्वपूर्ण बयान अदालत में ही दर्ज हो सकता है, एसआईटी टीम के पीड़िता को लेकर अदालत पहुंचने पर इन्हीं चर्चाओं को दम मिला है कि अदालत में एसआईटी कुछ देर बाद हर हाल में यह बयान दर्ज कराने की कोशिश करेगी।

एसआईटी टीम के पीड़िता को लेकर अदालत पहुंचने पर इन्हीं चर्चाओं को दम मिला है कि अदालत में एसआईटी कुछ देर बाद हर हाल में यह बयान दर्ज कराने की कोशिश करेगी। एसआईटी के सूत्र इस बात से भी इंकार नहीं कर रहे हैं।

कि अगर आज अदालत में छात्रा के धारा 164 के तहत बयान दर्ज हो गए, जिनमें उसने स्वामी पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है, तो अदालत एसआईटी को इस मामले में दुष्कर्म की धारा जोड़ने का भी निर्देश दे सकती है।दुष्कर्म की धारा जोड़ने के तुरंत बाद ही एसआईटी के लिए आरोपी चिन्मयानंद को गिरफ्तार करना मजबूरी भी होगा और जिम्मेदारी भी. अभी तक पीड़िता के बयान दर्ज न हो पाने के कारण ही लाख शोर-शराबे के बाद भी एसआईटी ने स्वामी को गिरफ्तार नहीं किया था।