अमेरिका और चीन के बीच मंगलवार-बुधवार को व्यापार वार्ता

नयी दिल्ली। चीन और अमेरिका के बीच व्यापार युद्ध को समाप्त करने के लिए चल रही वार्ता के दो महीने पहले विफल होने के बाद दोनों पक्ष मंगलवार से फिर से बातचीत शुरू करेंगे। दोनों के बीच व्यापार तनाव का असर वैश्विक व्यापार पर भी पड़ा है। मई में दोनों के बीच व्यापार तनाव को खत्म करने के लिए चल रही बातचीत विफल रही थी।

चीन की प्रौद्योगिकी कंपनी हुवावे पर अमेरिका द्वारा कड़े प्रतिबंध लगाए जाने के बाद दोनों के बीच तनाव बढ़ने से हालात बिगड़े हैं। ऐसे में बाजार को वार्ता फिर शुरू होने पर भी मुद्दे सुलझने की उम्मीद कम है। अमेरिका की ओर से वार्ताकार के तौर पर वित्त मंत्री स्टीवन म्नूचिन और अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटाइजर की चीन के अपने समकक्ष के साथ शंघाई में मंगलवार-बुधवार को वार्ता होनी है।

उल्लेखनीय है कि जून में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग के बीच इस बातचीत को दोबारा शुरू करने के लिए एक समझौता हुआ था। इस वार्ता का मकसद दोनों देशों के बीच व्यापार मुद्दों को सुलझाना है, जो दोनों अर्थव्यवस्थाओं के लिए काफी महंगे साबित हो रहे हैं।