निर्माण कार्य में लापरवाही बरतने पर कार्यदायी संस्था पर गिरी गाज

अभिषेक उपाध्याय

जौनपुर। बीते जनवरी माह मे नगर विकास एवं स्वास्थ्य मंत्री सुरेश खन्ना ने जनपद मे निर्माणाधीन राजकीय मेडिकल कालेज का दौरा किया था। इस दौरान उन्होने कार्य में लापरवाही बरतने पर कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम आजमगढ़ व टाटा कंपनी को कड़ी फटकार लगाई थी। जिसके बाद बीते एक सप्ताह पूर्व शासनस्तर से राजकीय निर्माण निगम आजमगढ़ से निर्माणाधीन कार्य छींनकर भदोही इकाई को सौंप दिया गया। जिसके बाद लगातर से कार्य तीव्र गति से चल रहा है।

आपको बता दे कि जनपद मे निर्माणाधीन राजकीय मेडिकल कालेज का शिलान्यास 25 दिसंबर 2014 को उत्तर प्रदेश के पुर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किया था। जिसका निर्माण कार्य 2015 में शुरू हुआ, 51 हेक्टेयर भूमि में बन रहे इस मेडिकल कालेज की लागत 554 करोड़ तय थी, जिसकी ओपीडी वर्ष 2017 मे शुरु होनी थी। तय लागत के सापेक्ष 227.11 करोड़ रुपये का भुगतान राजकीय निर्माण निगम को हुआ शेष धनराशि का भुगतान न होने जहाँ ठेकेदारों ने सामग्री की आपूर्ति ठप कर दी तो वही मजदूरों ने काम करना भी बन्द कर दिया है। वर्ष 2017 मे इस मेडिकल कालेज की ओपीडी शुरु होनी थी, पर चार वर्ष बीत जाने के बाद भी अब तक ओपीडी शुरु नही हो सकी है। राजकीय निर्माण निगम भदोही के काम काज को देखकर लग रहा है निर्माणाधीन कार्य तय समय में पूर्ण हो जाएगा।