आनंद करने के लिए जॉर्बिंग बॉल में घुसे युवक की दम घुटने से मौत

रिपोर्ट-राघवेन्द्र दास

गोरखपुर। रामगढ़ ताल में आनंद उठाने के लिए जॉर्बिंग बॉल में घुसे एक युवक अमन राय (20) की बुधवार शाम दम घुटने से मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ जब वह अपने तीन साथियों के साथ बॉल में था। अचानक बेहोश हुए अमन को लेकर साथी पास के कई अस्पतालों मेंं गए, मगर अमन को नहीं बचाया जा सका।

हालांकि दोस्तों ने पुलिस को घटना की सूचना नहीं दी और शव को लेकर सीधे रुस्तमपुर स्थित उसके किराए के मकान पर पहुंचे जहां से परिवार वाले उसे लेकर आजमगढ़ चले गए। दोस्तों के हादसे के दावे पर पुलिस संदेह जता रही है. उसका कहना है कि इतना कुछ यहां हो जाए और किसी को कानो कान खबर न हो ऐसा संभव नहीं. बात कुछ और भी हो सकती है।

जानकारी के मुताबिक, हादसे का शिकार अमन मूल रूप से आजमगढ़ के हरैया का रहने वाला था. वह गोरखपुर के रुस्तमपुर में किराए के मकान में परिवार के साथ रह रहा था । बुधवार की शाम अमन अपने दोस्तों के साथ रामगढ़झील और नौका विहार घूमने गया था। शाम पांच बजे के करीब अमन राय रामगढ़ ताल में आनंद उठाने के लिए अपने तीन दोस्तों के साथ जॉर्बिंग बॉल में गया।

दोस्तों के मुताबिक वे जॉर्बिंग बॉल का आनंद उठा रहे थे कि अमन अचानक बेहोश हो गया। उन्होंने शोर मचाया तो संचालक ने जॉर्बिंग रोक दी। उसमें से अमन को बाहर निकाला गया। दोस्तों और वहां मौजूद लोगों की मदद से अमन को तत्काल एक निजी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। फिर चार अन्य अस्पताल भी ले गए, मगर सभी ने मौत होने की पुष्टि की।

मां-बाप का अकेला बेटा था अमन
बेटे की मौत की सूचना पर अमन के पिता प्रदीप राय और अन्य परिवारी जनों कोई यकीन ही नहीं हो रहा था। मैं अमन का शव लेकर एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भटकते रहे। वे पांच प्राइवेट अस्पतालों में गए। परंतु हर जगह डॉक्टरों ने अमन को मृत बताया। अमन के पिता प्रदीप राय बेलघाट के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक है।

इंस्पेक्टर  राणा देवेंद्र प्रताप सिंह  ने कहा की  हादसा होने या फिर इस दौरान कोई मौत की सूचना पुलिस को नहीं दी गई हैं। मीडिया के जरिए जानकारी मिली है मामले की छानबीन की जा रही है।