लोहे के बिजली के खंबे से कभी भी घट सकती है बड़ी दुर्घटना

नरेन्द्र लाल गुप्ता

लोहे के बिजली के खंबे से कभी भी घट सकती है बड़ी दुर्घटना 

 इंजीनियर आर एस वर्मा  ने कहा कि

जब मेरी मर्जी होगी तब मैं स्टीमेट बनाऊंगा 
गोंडा । जनपद के झंझरी विकासखंड के ग्राम जानकीनगर ग्रामीण के चमन पुरवा में ग्रामीणों के  रास्ते पर एक लोहे का बिजली का खंभा लगा है जिससे कभी भी दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है विदित हो कि बरसात का महीना होने के कारण जब एसडीओ अनूप कुमार से वार्ता किया गया उन्होंने कहा खम्भे तो  रास्ते में ही लगाए जाते हैं।
किन्तु  वह शायद इस बात को भूल गए कि  यह खंबा खुले मैदान में नहीं लगा है यह ग्रामीणों का मुख्य रास्ता है और इसी रास्ते से प्रतिदिन समस्त ग्रामीण तथा जानवरों का आना जाना होता है खंभा चुकी लोहे का है इसीलिए कभी भी इस पर करंट उतरने का खतरा बना रहता है अभी हाल ही में लोहे के बिजली के खंभे में करंट उतरने से कई लोगों की जानें भी जा चुकी है ।
इस विद्युत खंभे को हटाकर  सीमेंट का विद्युत पोल लगाने के लिए अधिशासी अभियंता अशोक यादव को विगत 26/6 /2019 को एक प्रार्थना पत्र भी दिया जा चुका है जिसमें लिखा गया है कि इस पोल को हटाकर सीमेंट का विद्युत पोल लगाने का कष्ट करें जो भी  खर्चा आएगा वह भुगतान किया जाएगा और अधिशासी अभियंता ने उसी समय एसडीओ को मेल भी कर दिया किंतु जूनियर इंजीनियर आर एस वर्मा का कहना है।
कि जब हमें समय मिलेगा तब हम  स्टीमेट बनाएंगे अभी हमारे पास समय नहीं है यहां कहने का तात्पर्य यह  है क्या जूनियर इंजीनियर आर0एस0 वर्मा के आगे नतमस्तक है जिले का विद्युत प्रशासन