ठगी को जा रहे दो आरोपियों को पुलिस ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार

ठगों के पास से कुल 13 लाख के करीब भारतीय मनोरंजन बैंक लिखा रुपया बरामद
नेपाल सहित भारतीय क्षेत्रों में नोट दूना करने में काम करता है यह गैंग

अरुण वर्मा

महराजगंज।कोतवाली पुलिस को बृहस्पतिवार की सुबह एक बड़ी सफलता उस समय हासिल हुई जब मुख़बिर की सटीक सूचना पर मुकामी पुलिस ने दो ठगों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से करीब 13 लाख रुपये भारतीय मनोरंजन बैंक लिखा मिला दोनों अभियुक्तों के पास से एक एक अदद चाकू व एक मोटरसाइकिल बरामद की गई। कोतवाली पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर उन्हें जेल भेज दिया।

मिली जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार की सुबह मुखबिर द्वारा प्रभारी कोतवाल अशोक कुमार चौरसिया को सूचना दी गई कि दो ठग ठगी के लिए मोटरसाइकिल पर सवार हो तुरकहिया की तरफ से निकलने वाले है। सूचना पर नौनिया-भरवलिया मोड़ पर पुलिस गाड़ा बंदी कर उनके आने का इंतजार कर ही रही थी कि एक संदिग्ध मोटरसाइकिल आती दिखी। जिसकी घेराबंदी कर जामा तलाशी के दौरान शैलेश यादव पुत्र उदित यादव व कमरुद्दीन पुत्र तैय्यब निवासी चटिया कोतवाली ठूठीबारी जनपद महराजगंज सहित उनकी बाइक की डिग्गी से कुल 13 लाख 10 हजार भारतीय मनोरंजन बैंक लिखा कागज़ात बरामद किया गया। कोतवाली पुलिस ने उनके पास से दो अदद मोबाइल भी बरामद किया है।

पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह नोट दूनी करने में इसका इस्तेमाल करते है। ग्राहकों को अखबार में लपेटा हुआ नकली नोट के एवज़ में आधी रकम ले उसे दे दिया जाता है। प्रभारी कोतवाल अशोक कुमार चौरसिया ने बताया कि इनकी शिकायत पहले से मिल रही थी। उन्हें कोतवाली पुलिस ने मु.अ. सं. 55/19 भा. द. वि. 420/489 व आर्म्स एक्ट 4/25 की तहत जेल भेज दिया।