जानिए आज का दैनिक हिन्दू पंचांग

 ज्योतिषाचार्य डॉ उमाशंकर मिश्रा 
 दिनांक 13 अगस्त 2019
 दिन – मंगलवार
 विक्रम संवत – 2076 (गुजरात. 2075)
 शक संवत -1941
 अयन – दक्षिणायन
 ऋतु – वर्षा
 मास – श्रावण
 पक्ष – शुक्ल
 तिथि – त्रयोदशी दोपहर 01:46 तक तत्पश्चात चतुर्दशी
 नक्षत्र – उत्तराषाढा 14 अगस्त प्रातः 05:20 तक तत्पश्चात श्रवण
 योग – प्रीति सुबह 10:40 तक तत्पश्चात आयुष्मान्
 राहुकाल – शाम 03:45 से शाम 05:21 तक
 सूर्योदय – 06:17
 सूर्यास्त – 19:09
 दिशाशूल – उत्तर दिशा में
 व्रत पर्व विवरण – मंगलागौरी पूजन, शिवपवित्रारोपण, आखेटक त्रयोदशी
विशेष – त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)
हिन्दू पंचांग

रक्षाबंधन 
 15 अगस्त 2019 गुरुवार को रक्षाबंधन है ।
➡ सर्वरोगोपशमनं सर्वाशुभविनाशनम् ।
सकृत्कृते नाब्दमेकं येन रक्षा कृता भवेत् ।।
इस पर्व पर धारण किया हुआ रक्षासूत्र सम्पूर्ण रोगों तथा अशुभ कार्यों का विनाशक है ।इसे वर्ष में एक बार धारण करने से वर्षभर मनुष्य रक्षति हो जाता हैं ।(भविष्य पुराण)
हिन्दू पंचांग

 मनु स्मृति

भाई और बहन के लिए रक्षाबंधन (15 अगस्त, गुरुवार) एक महापर्व की तरह है। रक्षाबंधन भाई और बहन के प्यार का प्रतीक माना जाता है। इस दिन भाई अपनी बहन को प्यार के साथ-साथ कई तरह के उपहार भी देता है। मनु स्मृति में तीन ऐसी चीजों के बारे में बताया गया है, जो घर की महिलाओं को देने से घर में शांति और उन्नति बनी रहती है।
 श्लोक-
यत्र नार्यस्तु पूज्यते, रमन्ते तत्र देवताः।
 मनु स्मृति: बहन को जरूर दें ये 3 चीजें, हर काम में मिलेगी सफलता, होंगे लाभ
1⃣ वस्त्र
वस्त्र यानी कपड़े। सजना-सवरना, श्रृंगार करना ये सब महिलाओं को सबसे प्रिय होता है। मनुस्मृति के अनुसार, जिस घर के पुरुष अपनी पत्नी, माता या बहन को अच्छे वस्त्र प्रदान करते हैं, उस घर पर भगवान हमेशा प्रसन्न रहते हैं। ऐसे घर में हमेशा सुख-शांति बनी रहती है और सभी कामों में सफलता मिलती है। स्त्री को घर की लक्ष्मी माना जाता है, अगर महिलाएं गंदे या मैले कपड़े पहन कर रहती हैं या घर के पुरुष अपनी पत्नी, मां या बहन को समय-समय पर अच्छे वस्त्र नहीं प्रदान करते तो ऐसे घर पर लक्ष्मी रूठ जाती है।
2⃣ आभूषण
आभूषण यानी गहने। गहने महिलाओं की सबसे प्रिय वस्तुओं में से एक है। जिस घर की महिलाएं खुश रहती हैं, वहां देवताओं का निवास माना जाता है। हर मनुष्य को अपने घर की महिलाओं को सुंदर गहने उपहार में देना चाहिए। जिस घर की महिलाएं अच्छे कपड़े और गहनों से श्रृंगार करती है, वहां कभी दरिद्रता नहीं रहती। ऐसे घर में हमेशा खुशहाली और मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है ।
3⃣ मधुर वचन
महिलाओं को पूजनीय माना जाता है। कई ग्रंथों और पुराणों में महिलाओं का सम्मान करने की बात कही गई है। मनुस्मृति के अनुसार, जिस घर में महिलाओं से बुरी तरह से बात की जाती है या उनका सम्मान नहीं किया जाता, ऐसे घर में भगवान भी नहीं रहते। स्त्रियों का सम्मान न करने वाले मनुष्य को हर समय किसी न किसी परेशानी का सामान करना ही पड़ता है। इसलिए मनुष्य को हमेशा महिलाओं का सम्मान करना चाहिए और अपने घर की स्त्रियों के साथ हर समय प्रेम और आदर से ही व्यवहार करना चाहिए। ज्योतिषाचार्य डॉ उमाशंकर मिश्र सिद्धि विनायक ज्योतिष एवं वास्तु अनुसंधान केंद्र विभव खंड 2 गोमती नगर एवं वेद राज कांप्लेक्स पुराना आरटीओ चौराहा लाटूश रोड लखनऊ 9415 087 711 9235 722 996